Thursday, September 29, 2022
Home Blog

इलाहाबाद हाईकोर्ट के एडीजे प्रथम निलंबित; उनका कोर्ट रूम और चैंबर को भी सील, जानिए क्यों

प्रयागराज: इलाहाबाद हाईकोर्ट की प्रशासनिक कमेटी द्वारा भ्रष्टाचार की शिकायत मिलने के बाद बुधवार को इलाहाबाद जिला न्यायालय के एडीजे प्रथम राम किशोर शुक्ल के निलंबन के बाद हड़कंप मच गया. एडीजे प्रथम राम किशोर शुक्ल को सोनभद्र जिला न्यायालय से संबंद्ध कर दिया है। साथ ही उनके कोर्ट रूम और चैंबर को भी सील कर दिया है। जिला जज की कोर्ट में भी सुनवाई नहीं हो सकी।

मामले में जांच कर रही टीम ने जिला न्यायालय पहुंचकर दिन भर पत्रावलियों की जांच की। इलाहाबाद हाईकोर्ट प्रशासनिक कमेटी की अब तक यह सबसे बड़ी कार्रवाई मानी जा रही है। यह कार्रवाई पूरे दिन अधिवक्ताओं के बीच चर्चा का विषय बनी रही। पत्रावलियों की जांच के बाद देर शाम सील तोड़कर एडीजे प्रथम के कोर्ट रूम और चैंबर को खोल दिया गया।

इसके पहले मंगलवार की रात तकरीबन एक बजे जिला न्यायालय पहुंचकर जिला जज संतोष कुमार राय ने एडीजे प्रथम के चैंबर और कोर्ट रूम को सील कर दिया। इसके बाद सुबह पहुंची हाईकोर्ट की टीम ने पत्रावलियों की जांच शुरू कर दी। यह जांच दिन भर चली। जिला जज ने पत्रावलियों को उपलब्ध कराया। इस वजह से जिला जज की कोर्ट में सुनवाई नहीं हो सकी। केसों को दूसरी कोर्ट में स्थानांतरित कर दिया गया।

adv

प्रयागराज: सगाई के चार दिन बाद युवती का अगवा; धर्म परिवर्तन व शादी की धमकी

Representational Picture

प्रयागराज: सगाई के चार दिन बाद युवती का अगवा; धर्म परिवर्तन व शादी की धमकी

सिविल लाइंस में सगाई के चार दिन बाद युवती का अगवा कर लिया गया। आरोप है कि अपहरण से पहले एक युवक ने फोन कर धर्म परिवर्तन व शादी की धमकी दी थी। पुलिस ने तलाश शुरू की तो युवती झूंसी में मिली। आरोपी भी हिरासत में ले लिया गया।

24 वर्षीय युवती की सगाई 21 सितंबर को हुई थी। 24 सितंबर को मंगेतर के पास एक युवक ने फोन किया। उसने अपना नाम फारुख कुरैशी बताया। साथ ही कहा कि वह युवती को भूल जाए। वह धर्म परिवर्तन कर उससे शादी करेगा।

इसके बाद गालीगलौज करते हुए बात न मानने पर जान से मारने की धमकी भी दी। मंगेतर ने बताया तो घरवालों को जानकारी हुई। उधर 25 सितंबर को दोपहर बाद युवती घर से गायब हो गई। उसका एटीएम, आधार, वोटर आईडी, पैन भी गायब है।

काफी तलाश के बाद भी कुछ पता नहीं चलने पर युवती के चाचा ने थाने पहुंचकर तहरीर दी। इसके बाद नामजद रिपोर्ट दर्ज कर ली गई। उधर रात में ही युवती को झूंसी से बरामद कर लिया गया। आरोपी को भी हिरासत में ले लिया गया। देर रात तक उससे पूछताछ चलती रही। इंस्पेक्टर वीरेंद्र सिंह यादव ने का कहना है कि जांच पड़ताल की जा रही है।

adv

यूपी में काल बनी ट्रेलर; 18 लोगों की छीन ली जिंदगी; 23 से ज्यादा लोग घायल

बाराबंकी: जिले के रामसनेहीघाट थाना क्षेत्र में मंगलवार देर रात लखनऊ-अयोध्या हाइवे पर सड़क किनारे खड़ी बस को तेज रफ्तार ट्रेलर ने टक्कर मार दी. टक्‍कर इतनी जबरदस्‍त थी क‍ि हादसे में 18 लोगों ने दम तोड़ दिया. जबक‍ि 23 से ज्यादा लोग घायल हैं. गंभीर घायलों को ट्रामा सेंटर लखनऊ रेफर किया गया है. बस हरियाणा से बिहार जा रही थी.

बाराबंकी के रामसनेहीघाट थाना क्षेत्र में डबल डेकर बस 150 यात्रियों को लेकर हरियाणा से बिहार जा रही थी. बाराबंकी के रामसनेहीघाट थाना क्षेत्र में बस का एक्सल टूट गया. इसलिए ड्राइवर ने बस को लखनऊ-अयोध्या हाईवे पर कल्याणी नदी के पुल पर खड़ा कर दिया था. इसके बाद यात्री उतरकर बस के नीचे, उसके आगे और आसपास लेट गए। इसी बीच रात 11:30 बजे लखनऊ की ओर से आ रहे तेज रफ्तार ट्रेलर ने बस को टक्कर मार दी. इससे बस और ट्रक की चपेट में आकर करीब 11 लोगों की मौके पर ही मौत हो गई और जबकि बाकी 7 लोगों ने अस्पताल पहुंचते-पहुंचते दम तोड़ दिया.

हादसे के बाद ट्रेलर का ड्राइवर मौके से फरार हो गया. वहीं, घटना के बाद हाइवे पर करीब 5 किलोमीटर तक लंबा जाम लग गया.

यह भी पढ़े- यूपी: पट्टीदारों ने भाजपा नेता के बेटे और माँ की ले ली जान, पुलिस की लापरवाही पड़ी भारी

adv

यूपी: शराब माफिया ने पीट-पीटकर की सिपाही की हत्या, दारोगा को मारा भाला..पुलिस मुठभेड़ में एक आरोपी भी ढेर

कासगंज: जिले में मंगलवार देर शाम शराब माफिया ने कुर्की के लिए नोटिस चस्पा करने गए दारोगा अशोक कुमार सिंह और सिपाही देवेंद्र कुमार को शराब माफिया मोतीराम ने पकड़ लिया। उसने पीटकर सिपाही को मौत के घाट उतार दिया, जबकि दारोगा की हालत गंभीर बनी हुई है। दोनों गांव से डेढ़ किलोमीटर दूर खेत में बंधक मिले। दारोगा पर भाला से हमला किया गया है, जबकि सिपाही के सिर पर भी वार किया गया। देर रात कई थानों की फोर्स के साथ पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंच गए हैं। घटना को लेकर सीएम योगी आदित्यनाथ ने आरोपित पर राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (रासुका) के तहत कार्रवाई करने का निर्देश दिया है। साथ ही सिपाही के आश्रित को 50 लाख रुपये और नौकरी देने की घोषणा की है।

इसके बाद एक्शन में आई पुलिस ने बुधवार तड़के एक एनकाउंटर में इस हत्‍याकांड के मुख्य आरोपी मोती के भाई एलकार सिंह को मार गिराया, जबकि अन्य की तलाश में लगातार दबिश दी जा रही है| मारा गया बदमाश एलकार सिंह भी हिस्ट्रीशीटर है और वह जेल भी जा चुका है|

कासगंज जिला मुख्यालय से करीब 45 किलोमीटर दूर गंगा की कटरी में स्थित गांव नगला धीमर में दारोगा अशोक कुमार सिंह (नगला गबे, किशनी, मैनपुरी) और सिपाही (देवेंद्र कुमार नगला बिंदू, डौकी, आगरा) मंगलवार शाम शराब माफिया मोतीराम की कुर्की का नोटिस चस्पा करने गए थे। हिस्ट्रीशीटर मोतीराम के विरुद्ध 11 मुकदमे पंजीकृत हैं। गांव में माफिया ने दोनों पुलिसकर्मियों को घेर लिया और एक पेड़ से बांधकर जमकर पीटा। इसके बाद माफिया व ग्रामीण दोनों को डेढ़ किलोमीटर दूर खेत पर ले गए। वहां भी दोनों की पिटाई की, वर्दी भी फाड़ दी।

पटियाली के सीओ गवेंद्र पाल गौतम सूचना मिलने पर पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे। घटना की गंभीरता को देखते हुए जिले के कई थानों की फोर्स को बुलाया गया। पुलिस को दोनों खेत में बंधक मिले। अस्पताल लाने तक सिपाही की मृत्यु हो गई, जबकि दारोगा की हालत गंभीर बनी हुई है। आइजी पीयूष मोडिया ने बताया कि पुलिसकर्मी जहरीली शराब के एक मामले में कुर्की पूर्व नोटिस चस्पा करने गए थे। वहां दोनों को बंधक बना लिया।

पुलिस को दारोगा एक खेत में मिले, उनकी बाइक के अलावा एक अन्य बजाज प्लेटिना बाइक भी मिली है। दारोगा की वर्दी जूते भी पास ही पड़े थे। लगभग आधा घंटे बाद सिपाही भी एक गेहूं के खेत में गंभीर हालत में मिला। यहां पुलिस को शराब की भट्टी का सामान बिखरा पड़ा मिला है।

adv

प्रयागराज: कोरोना काल में दी गई सेवा हेतु एनजीबीयू में चिकित्सक सम्मान समारोह आयोजित

प्रयागराज: नेहरू ग्राम भारती मानित विश्वविद्यालय के हनुमानगंज परिसर में आयोजित सम्मान समारोह कार्यक्रम में कोविड-19 काल में अनवरत सेवारत चिकित्सकों को स्मृति चिह्न, शॉल एवं प्रशस्ति पत्र प्रदान कर सम्मानित किया गया सम्मानित चिकित्सकों में डॉ० दिनेश सिंह, डॉ० उमाकांत यादव, डॉ० रमेश द्विवेदी, डॉ० हरिश्चंद्र, डॉ० केश्नुमा परवीन, डॉ० फैयाज हाशमी, डॉ० सुधीर राय, डॉ० आरबी पटेल, डॉ० विजय बहादुर, डॉ० एस०एन० यादव, डॉ० सामरीन अंजुम शामिल रहे।

इस अवसर पर विश्वविद्यालय के प्रति कुलपति डॉ० एस०सी० तिवारी ने चकित्सकों को सम्बोधित करते हुए कहा कि कोविड19 महामारी के दौरान जिस प्रकार डाक्टर्स एवं नर्सों ने अपने जीवन की परवाह न करते हुए मरीजों को सुरक्षित करने का कार्य किया है, वह अतुलनीय है। ऐसे लोगों का सम्मान हमें एक नई ऊर्जा प्रदान करता है। ऐसे समय में जब इस महामारी के बारे में सबको बहुत कम जानकारी थी डाक्टर्स दीन-रात उपचार में संलग्न थे।

आगे उन्होंने कहा कि ऐसे चिकित्सकों के सम्मान के लिए आज यह सम्मान समारोह आयोजित किया गया है। इस सम्मान समारोह में पधारे लगभग 50 चिकित्सकों को सम्मानित किया गया। कार्यक्रम का संचालन डॉ० दिलीप कुमार ने तथा धन्यवाद ज्ञापन कुलसचिव आर०एल० विश्वकर्मा ने किया।

इस अवसर पर इस अवसर पर सुरेश यादव, अनिल पाण्डेय, डॉ० स्वप्निल त्रिपाठी, भोलानाथ तिवारी, प्रिया मिश्रा आदि मुख्य रूप से मौजूद रहे।

adv

प्रयागराज: सीएमपी डिग्री कॉलेज में डिप्लोमा इन कंप्यूटरराइज्ड अकाउंटिंग में प्रवेश प्रारंभ

प्रयागराज: सीएमपी डिग्री कॉलेज, प्रयागराज में डिप्लोमा इन कंप्यूटरराइज्ड अकाउंटिंग में प्रवेश प्रारंभ हो गया है जिसकी अंतिम तिथि 26 फरवरी निर्धारित की गई है। ध्यातव्य है कि सीएमपी डिग्री कॉलेज के अध्यक्ष, शासी निकाय चौधरी जितेंद्र नाथ सिंह की अनुमति मिलने के बाद इस कोर्स का संचालन भारत की प्रसिद्ध कंप्यूटर प्रशिक्षण संस्थान ‘यूपीटेक’ के सहयोग से किया जाएगा। कोर्स से संबंधित विस्तृत जानकारी सीएमपी कॉलेज की वेबसाइट https://cmpcollege.ac.in/ एवं कॉलेज के सेंटर फॉर स्किल डेवलपमेंट से प्राप्त की जा सकती है। इसके लिए हेल्पलाइन नंबर 9450590289, 8318775328, 8004836301 हैं।

इस कोर्स को संचालित करने के लिए सीएमपी डिग्री कॉलेज में एक अलग से सेंटर की स्थापना की गई है जिसका नाम सेंटर फॉर स्किल डेवलपमेंट है जिसका समन्वयक वाणिज्य विभाग के सहायक आचार्य डॉ. बिरेश्वर पांडेय को बनाया गया है। इस कोर्स को प्रारंभ करने में यूपीटेक के डायरेक्टर प्रोफेसर के के भूटानी एवं सेंटर मैनेजर रत्नेश कुमार दीक्षित का योगदान रहा है। यह जानकारी कॉलेज के प्राचार्य डॉ. बृजेश कुमार ने दिया है।

adv

यूपी: कांग्रेस विधायक अदिति सिंह ने राम मंदिर निर्माण के लिए 51 लाख रुपये का दिया दान

रायबरेली: अयोध्या के राम मंदिर समर्पण निधि अभियान के अंतर्गत मंगलवार को रायबरेली में कांग्रेस विधायक अदिति सिंह और उनके समर्थकों ने अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिए 51 लाख रुपये का दान दिया है| इस मौके पर श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय मौजूद रहे| चंपत राय ने कहा कि अयोध्या में मंदिर निर्माण के लिए घर-घर जाकर समर्पण निधि एकत्र की जाएगी| रायबरेली आने का मकसद कार्यकर्ताओं से मुलाकात करना और कार्यक्रम को आगे बढ़ाना है| उन्होंने कहा कि राम के काम में जो भी सहयोग देने के लिए आएगा उसका स्वागत है|

ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय ने आगे कहा की मंदिर की नींव की तैयारी के लिए देश के इंजीनियरिंग संस्था आईआईटी बॉम्बे, गुहाटी, मद्रास,एनआईटी ने टाटा और एलएनटी ने गुण दोष के आधार पर चर्चा की| 400 फीट जमीन की गहराई पर रिसर्च किया गया| सरयू नदी का किनारा है, नदी कभी भी अपना बहाव बदल सकती है, उसपर चर्चा हुई| भगवान राम का यह मंदिर 36 से 39 महीनों में बनकर तैयार हो जाएगा|

राय ने बताया कि इसके लिए 10,100 रुपये व 1000 रुपये का कूपन बनाया गया है इससे ऊपर जो भी राशि मिलेगी उसकी रसीद दी जाएगी| भारतीय स्टेट बैंक पंजाब नेशनल बैंक और बैंक ऑफ बड़ौदा की 46 हजार से ज्यादा शाखाओं में लगातार राम मंदिर के लिए निधि समर्पण अभियान के अंतर्गत एकत्रित धन को जमा किया जा रहा है|

adv

इलाहाबाद विश्वविद्यालय के छात्रनेता नितेश सिंह की मौत

प्रयागराज: किसी समारोह में शामिल होने के बाद घर लौट रहे इलाहाबाद केंद्रीय विश्वविद्यालय (इविवि) के छात्रनेता नितेश सिंह राजपूत की मंगलवार भोर सड़क हादसे में मौत हो गई। भदोही जिले के सीतामढ़ी स्थित कटरा पोस्ट के अरई गांव निवासी राजपूत के साथ यह हादसा भदोही के ही लालनगर में हुई है।

ब्वायज हाईस्कूल से पढ़ाई करने के बाद नितेश ने इविवि से बीएएलएलबी में दाखिला लिया। इस बीच वर्ष 2018 में उन्होंने छात्रसंघ चुनाव में भी दांव आजमाया। उपाध्यक्ष पद पर चुनाव तो लड़े पर सफलता नहीं मिली।

adv

यूपी: विभिन्न त्योहारों को देखते हुए योगी सरकार ने जारी किया ये दिशा-निर्देश, अब नहीं कर पाएंगे….

लखनऊ: अगले तीन महीनों में पड़ने वाले विभिन्न त्योहारों को देखते हुए यूपी सरकार ने कोरोना के मद्देनजर किसी भी दशा में चौराहों तथा सड़कों पर मूर्तियां व ताजिये न रखने का दिशा-निर्देश जारी कर दिया है। मूर्तियों की स्थापना पारंपरिक लेकिन खाली स्थान पर की जाए। उनका आकार छोटा रखा जाए तथा मैदान की क्षमता से अधिक लोग न रहें। हालांकि कार्यक्रम स्थलों पर क्या करें व क्या न करें के निर्देश प्रदर्शित करने होंगे। मूर्ति विसर्जन में छोटे वाहनों का प्रयोग करना होगा। इसमें कम से कम व्यक्ति शामिल होंगे और इस दौरान एंबुलेंस रखना अनिवार्य होगा।

अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी ने कहा है कि नवरात्रि, दुर्गापूजा, दशहरा, बारावफात, दीपावली, छठ पूजा, कार्तिक पूर्णिमा एवं क्रिसमस के दौरान जगह-जगह प्रतिमा स्थापना, धार्मिक पूजा, मेला, जागरण, सांस्कृतिक कार्यक्रम, विसर्जन जैसी गतिविधियां होती हैं। इनमें भारी जनसमूह के जुटने की संभावना रहती हैं। इसलिए दिशा-निर्देशों के कड़ाई से पालन के निर्देश दिए गए हैं।

कार्यक्रम स्थल पर थर्मल स्कैनिंग, शारीरिक दूरी तथा मास्क सुनिश्चित करने के लिए वॉलंटियर्स की तैनाती करनी होगी। सोशल डिस्टेंसिंग के लिए वृत्त (गोला) चिन्हांकन सुनिश्चित किया जाएगा। प्रवेश व निकास के लिए अलग-अलग और जहां तक संभव हो, एक से अधिक रास्ते सुनिश्चित किए जाएंगे। केवल वही स्टाफ तथा दर्शक प्रवेश कर सकेंगे जिनमें कोरोना के कोई लक्षण नहीं होंगे। कार्यक्रम स्थल पर डिस्पोजल कप व गिलास का प्रयोग किया जाएगा।

सोशल डिस्टेंसिंग व मास्क के मानकों के अनुपालन की निगरानी रखने के लिए सीसीटीवी कैमरा लगाने पर भी विचार करना होगा। कार्यक्रम स्थल पर कोविड -19 से बचने के उपायों से सम्बन्धित पोस्टर्स/ बैनर्स लगाने होंगे और ऑडियो/ विजुअल प्रचार-प्रसार भी करना होगा। थूकने पर सख्ती से प्रतिबंध लगाया जाएगा।

ये निर्देश भी जारी

  • कार्यक्रम स्थलों व सामान्य प्रयोग में आने वाली वस्तुओं जैसे दरवाजों के हैंडल, लिफ्ट के बटन, बैरिकेट, सीट, बेंच आदि को लगातार सेनिटाइज करना होगा।
  • कार्यक्रम/ प्रदर्शन/ रैली आदि के दौरान किसी भी व्यक्ति के कोविड के लक्षण पाए जाने पर उसे चिकित्सा सुविधा उपलब्ध होने तक के लिए आइसोलेट करने के लिए एक अलग कक्ष की व्यवस्था करनी होगी।
  • एयर कंडीशनर का तापमान 24-30 डिग्री सेल्सियस, ह्यूमिडिटी 40-70 डिग्री के अन्तर्गत रखना होगा।
adv

अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद ने कहा- मुसलमान बहुसंख्यक हैं, समान नागरिक संहिता कानून लागू हो

प्रयागराज: हिंदू देवी-देवताओं पर मुस्लिम महिला द्वारा अश्लील टिप्पणी किए जाने की घटना पर अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद ने बृहस्पतिवार को नाराजगी जाहिर की| अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरि ने कहा कि प्रयागराज की मुस्लिम महिला ने हिंदू देवी-देवताओं के लिए जिन अपशब्दों का प्रयोग किया है, वो असहनीय है| उन्होंने कहा कि, ”हम एक बार पुनः दोहराते हैं कि मुसलमान अल्पसंख्यक नहीं हैं और वे बहुसंख्यक हो गए हैं|”

मीडिया को जारी किए गए एक वीडियो में उन्होंने कहा कि, ”इस समस्या का एक ही समाधान है और वो है समान नागरिक संहिता| इसके लागू होने से मुसलमान तीन-तीन शादियां नहीं कर सकेंगे और अपनी जनसंख्या नहीं बढ़ा सकेंगे|

सोशल मीडिया पर हिंदू देवी-देवताओं के खिलाफ आपत्तिजनक टिप्पणी करने की आरोपी महिला सना उर्फ हीर को खुल्दाबाद थाने की पुलिस ने मंगलवार को गिरफ्तार किया था| महिला ने हिंदू देवी-देवताओं के खिलाफ अपशब्दों का प्रयोग किया था|

adv