बिहार: प्रधानमंत्री के नाम से कई लोग अपनी समस्याओं को बताते हुए खत लिखते हैं। लेकिन इस बार गांव के एक युवक ने पीएम से अपनी पत्नी के लिए गुहार लगाई है। पीएम के नाम खत लिख कर उस युवक ने उसके वैवाहिक जीवन को बर्बाद होने से बचाने और नाराज होकर मायके चली गई पत्नी को वापस बुलाने की गुजारिश की है।

उसने ऐसा इसलिए किया ताकि उसकी पत्नी के लौटने से उसका सूना घर वापस आबाद हो सके और बिना पुलिस कार्रवाई के उसकी पत्नी सकुशल वापस लौट सके। आपको बता दें कि गांव भैरूपुरा के युवक जगदीश प्रसाद की शादी 7 जुलाई 2018 को बिहार की मीरा के साथ हुई थी। शादी के बाद 12 दिनों तक सबकुछ ठीक चला। इसके बाद मीरा पति की किसी बात से नाराज होकर अपने मायके चली गई।

जगदीश के मुताबिक मीरा अब वापस नहीं आना चाहती है। गुस्से में उसने फोन उठाना भी बंद कर दिया है। आपको बता दें कि दोनों की शादी परिजनों की सहमति से ही हुई थी। 12वीं कक्षा तक पढे़ जगदीश का मानना है कि पीएम मन की बात में सभी की लोगों की पीड़ा सुनते हैं। उसे विश्वास है कि खत मिलने के बाद वह उसकी समस्या का भी समाधान जरूर करेंगे। जगदीश ने चिठ्ठी में गांव वालों के भी हस्ताक्षर भी करवाए हैं।

जगदीश का कहना है कि जून 2018 में पहले भी गांव के एक व्यक्ति ने पीएम को पत्र लिखकर आर्थिक मदद की गुहार लगाई थी। इसके बाद पीएमओ कार्यालय से राज्य सरकार के पास उसकी पीड़ा पहुंची और स्थानीय प्रशासन ने उसे करीब साढे़ चार लाख रुपए की मदद दी थी। इसी को देखते हुए उसने भी पीएम मोदी से गुहार लगाई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here