भदोही: एक तरफ भारत नित नए प्रयोग कर पूरी दुनिया में अपना लोहा मनवा रहा है, पूरी दुनिया को अपने ताकत का एहसास करा रहा है| वहीं, देश में कुछ ऐसे भी गांव है जो मूलभूत सुविधाओं से भी वंचित है| इसी क्रम में आज आपको एक ऐसे गांव के बारे में बताते है जहाँ आजादी के 73 साल बाद भी गांव को जोड़ने के लिए नाला ही एक मात्र आम रास्ता है। यह रास्ता राजस्व रिकार्ड में नाले के तौर पर दर्ज है।

जी हाँ, हम बात कर रहे है भदोही जिले में डुबही गांव की जहाँ गांव को जोड़ने के लिए नाला ही एक मात्र आम रास्ता है| इसको लेकर भदोही के राकेश कुमार ने सड़क बनाने के लिए हाईकोर्ट में जनहित याचिका दाखिल की है। 

कोर्ट ने मामले को गंभीरता से लेते हुए भदोही के डीएम को मौके पर जाकर मुआयना और गांव वालों को सड़क देने के लिए उपाय करने का निर्देश दिया है। जनहित याचिका पर न्यायमूर्ति अश्वनी कुमार मिश्र सुनवाई कर रहे हैं। कोर्ट ने जिलाधिकारी से 23 नवम्बर तक व्यक्तिगत हलफ़नामा दाखिल करने को कहा है। 

याची का कहना है कि गांव में प्राइमरी स्कूल भी है। 2013में जिला पंचायत राज अधिकारी को प्रत्यावेदन दिया गया है। गांव में रहने वाले 300 लोग नाले होकर गांव में आते जाते हैं। बरसात  के दिनों में आने जाने का कोई रास्ता नहीं होता है। गांव को संपर्क मार्ग बनाकर जोड़ने के लिए जनप्रतिनधियों को कई प्रत्यावेदन दिए गए मगर कोई सुनवाई नहीं हुई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here