Advertisement

प्रयागराज: यूपी टीईटी 2021 की लिखित परीक्षा में सेंधमारी करने आए बिहार के आठ साल्‍वर सहित 13 लोगों को स्पेशल टास्क फोर्स (एसटीएफ) ने प्रयागराज में गिरफ्तार किया है। सभी से पूछताछ चल रही है। पेपर कहां से और कैसे लीक हुआ इसकी भी छानबीन हो रही है।

adv

टीईटी की परीक्षा को लेकर जिले में 183 केंद्र बनाए गए थे। यहां पर करीब डेढ़ लाख अब्यर्थी को दो पालीयों में परीक्षा देना था। परीक्षा शुरू होने से पहले ही शनिवार को एसटीएफ को साल्‍वर गिरोह के सक्रिय होने की भनक लग गई थी। इसी के आधार पर साल्‍वर और परीक्षा की सुचिता को भंग करने के उद्देश्य से अलग-अलग स्थानों पर छिपे गैंग के लोगों के बारे में छानबीन तेज कर दी गई थी।

कई संदिग्ध के मोबाइल नंबर भी सर्विलांस पर लगा दिए गए थे। बताया जाता है कि रविवार सुबह परीक्षा शुरू होने से पहले एसटीएफ की अलग-अलग टीमों ने ताबड़तोड़ कई जगह छापेमारी की। फिर छिवकी से आठ, झूंसी से तीन और जार्जटाउन थाना क्षेत्र से दो युवकों हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू की गई।

जांच में पता चला है कि सभी लोग दूसरे के स्थान पर परीक्षा देने आए थे। इसमें नैनी के छिवकी इलाके से पकड़े गए आठ साल्‍वर बिहार के अलग-अलग स्थान के रहने वाले बताए जा रहे हैं। एसटीएफ को अभियुक्तों के पास से इलेक्ट्रानिक उपकरण दूसरे का प्रवेश पत्र और कुछ अन्य शैक्षणिक अभिलेख भी मिले हैं, जिनकी जांच हो रही है।

एसटीएफ के अधिकारी जिन परीक्षा केंद्र से और उनके बाहर से अभियुक्तों की गिरफ्तारी की है, वहां के प्रबंधन और कुछ अन्य कर्मचारियों की भूमिका की भी जांच कर रही है। साथ ही गैंग से जुड़े अन्य लोगों की तलाश में टीम जुटी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here