पिथौरागढ़: मुनस्यारी-मिलम मोटर मार्ग पर 22 जून को टूटा वैली पुल बॉर्डर रोड ऑर्गनाइजेशन (BRO) के जांबाजों ने 120 फिट लम्बे पुल को पांच दिन में जोड़ कर तैयार कर दिया है. इस पुल में ट्रायल के बाद वाहनों की आवाजाही शूरू कर दी गई है| इस दौरान एक पोकलैंड मशीन और 70 मजदूरों की सहायता से पुल जोड़ने का काम चौबीसों घंटे जारी रहा| पुल के बन जाने से सीमांत के गांवों सहित सेना और आईटीबीपी को भी राहत मिली है| आपको बतादें कि 22 जून को पोकलैंड से लदे ट्राले की वजह से सेनर नदी पर बना वैली पुल भरभराकर टूट गया था|

पिथौरागढ़ के डीएम विजय जोगदंड ने बताया कि चीन के साथ जारी लद्दाख में ताजे विवाद के बाद सीमा तक हर हाल में आवाजाही बरकरार रखना सरकार के लिए बेहद जरूरी है| यही वजह है कि सिर्फ 5 दिन में ही चौबीसों घंटे काम करके इस महत्वपूर्ण वैली ब्रिज को तैयार किया गया|