Advertisement

उत्तर प्रदेश के भदोही में समाजवादी पार्टी के निवर्तमान जिलाध्यक्ष हैं विकास यादव। उनका एक वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है, जिसमें उन्होंने माता सीता और निषादराज को लेकर विवादित टिप्पणी की है। विरोध होता देख सपा के नेता ने माफी माँगने में भी देर नहीं लगाई। उन्होंने वादा किया कि वो दोबारा से ऐसी हरकत नहीं करेंगे।

adv

रिपोर्ट के मुताबिक, ये घटना रविवार ( 24 अप्रैल 2022) की है। उस दौरान विकास यादव कुछ लोगों के साथ गंगा में नाव की सवारी कर रहे थे। उसी दौरान उन्होंने ये बयान दिया। सपा नेता ने कहा, “निषादराज सीता के चक्कर में पड़ गए थे, उनकी नजर सीता जी पर थी और वो उन्हें ही नदी के पार ले जाना चाहते थे।” उनके इस बयान को किसी ने रिकॉर्ड कर लिया और सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया।

सोमवार जब सोशल मीडिया पर वायरल अपने बयान को लेकर हो रहे विरोध को देखा तो विकास यादव ने कहा कि ये शब्द उनसे गलती से निकल गया है। अब भविष्य में ऐसी गलती नहीं होगी। उन्होंने ये भी स्पष्टीकरण दिया कि उनकी मंशा किसी की भावनाओं को ठेस पहुँचाने की नहीं थी। यादव ने सफाई पेश करते हुए दावा किया वो खुद भी भगवान को मानते हैं और उनमें आस्था रखते हैं।

सपा जिलाध्यक्ष के खिलाफ केस दर्ज
भले ही विकास यादव ने अपने आपत्तिजनक बयान को लेकर माफी माँग ली हो, लेकिन उनकी मुश्किलें इससे कम नहीं हो जाती हैं। ‘निषादराज पार्टी’ के ज्ञानपुर के विधायक विपुल दुबे ने एसपी डॉ अनिल कुमार को पत्र लिखकर शिकायत की है। विपुल दुबे ने कहा कि समाजवादी पार्टी के नेता की मानसिकता दूषित हो गई है। पुलिस अधीक्षक के मुताबिक, मामले में ज्ञानपुर कोतवाली में केस दर्ज किया जा रहा है। मामले में जरूरी कार्रवाई की जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here