प्रयागराज: मेजारोड के सोरांव गांव के सामने शुक्रवार रात करीब नौ बजे दुकान बंदकर साइकिल से घर लौट रहे कपड़ा कारोबारी का बोलेरो सवार बदमाशों ने अपहरण कर लिया। काफी देर तक कारोबारी घर नहीं पहुंचा तो हड़कंप मच गया। परिजनों ने खोजबीन शुरू की तो सोरांव गांव के सामने कारोबारी की साइकिल और चश्मा मिला। पुलिस ने मामले में एफआईआर दर्ज कर जांच शुरू की है लेकिन 20 घंटे बाद भी कारोबारी का कुछ भी पता नहीं चल सका है।

सिरसा कस्बे के महुआकोठी मुहल्ले के जोखू लाल केशरी के चार बेटों में सबसे बड़ा विजय कुमार केशरी (40) मेजारोड बैंक ऑफ बड़ौदा के पास में किराए का कमरा लेकर कपड़ा की दुकान चलाता है। वह शुक्रवार रात नौ बजे दुकान बंदकर साइकिल से रोज की तरह घर जा रहा था। वह जैसे ही सोरांव गांव के सामने पहुंचा वैसे ही पीछे से आए बोलेरो सवार बदमाशों ने उसको ओवरटेक कर रोक लिया।

चश्मदीद राहगीरों की मानें तो विजय की पिटाई कर बदमाशों ने उसे बोलेरो में जबरन बैठा लिया। काफी देर तक विजय घर नहीं पहुंचा तो परिजन परेशान हो उठे। खोजबीन में विजय की साइकिल और चश्मा बरामद हुआ है। पत्नी सुधा देवी और तीन बच्चे अंश, अंत्रा और अनुष्का का रो-रोकर बुरा हाल है। पिता जोखू लाल और मां कलावती देवी तो रोते-रोते बेसुध हो गए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here