प्रयागराज: नेहरू ग्राम भारती मानित विश्वविद्यालय के वाणिज्य विभाग द्वारा ग्रामीण क्षेत्रों के छात्रों को कौशल विकास एवं रोजगार परक पाठ्यक्रम उपलब्ध कराने के क्रम में एक कदम आगे बढ़ते हुए भारतीय कंपनी सचिव संस्थान एवं नेहरू ग्राम भारती मानित विश्वविद्यालय के मध्य एक एमओयू पर हस्ताक्षर किया गया। इस अवसर पर आइसीएसआई के अध्यक्ष आशीष गर्ग ने बोलते हुए कहा कि नेहरू ग्राम भारती मानित विश्वविद्यालय के साथ मिलकर हम आत्मनिर्भर भारत के निर्माण में ग्रामीण शिक्षण-प्रशिक्षण के माध्यम से महत्वपूर्ण योगदान दे सकते हैं।

विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो० राम मोहन पाठक ने अपने उद्बोधन में कहा कि भारतीय कंपनी सचिव संस्थान और नेहरू ग्राम भारती मानित विश्वविद्यालय के मध्य यह एमओयू छात्रों के व्यवहारिक एवं कौशलयुक्त शिक्षा को बढ़ावा देगा।

प्रति कुलपति डॉ० एस०सी० तिवारी ने कहा कि यह एमओयू केवल वाणिज्य के छात्रों को ही नहीं बल्कि अन्य विभाग के छात्रों के लिए भी उपयोगी होगा।

वाणिज्य विभाग के अधिष्ठाता डॉ० विनोद कुमार पाण्डेय ने बताया कि पाठ्यक्रम निर्धारण, औद्योगिक प्रशिक्षण, शैक्षणिक भ्रमण, शोध, नवाचार तथा फैकल्टी डेवलपमेंट आदि के साथ छात्रों के चहुमुखी विकास में यह एमओयू लाभकारी होगा।

ICSI के इलाहाबाद के चेयरमैन लवकुश यादव ने इस एमओयू के विभिन्न पहलुओं पर विस्तार से प्रकाश डाला। कार्यक्रम का संचालन डॉ० राजेश केशरी ने तथा धन्यवाद ज्ञापन कुलसचिव आर०एल० विश्वकर्मा ने किया।

इस अवसर पर डॉ० प्रमोद मिश्रा, डॉ० रमेश चंद्र मिश्रा, डॉ० प्रबुद्ध मिश्रा, डॉ० आशीष शिवम, प्रो0 केके तिवारी, डॉ० वीरेंद्र मणि त्रिपाठी सहित विश्वविद्यालय के विभिन्न विभागों के विभागाध्यक्ष एवं अध्यापकगण मौजूद रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here