मथुरा: शनिवार को जिले के गोवर्धन मार्ग पर मौजूद गिरराज बगीची के पीछे बने आश्रम में रहने वाले दो साधुओं की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई| आश्रम में रामायण का पाठ कर रहे दोनों साधुओं ने अपने एक और साथी के साथ सुबह की चाय पी थी| जिसके बाद तीनों के ही मुंह से झाग निकलता हुआ देखा गया| जब तक उन्हें अस्पताल ले जाया जाता, तब तक दो साधुओं की मौत हो गई| जबकि इनमें से एक रामबाबू नाम के साधु को गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती कराया गया है| मृत साधुओं का नाम गोपालदास और श्यामसुंदर दास था|

पूरा घटनाक्रम शनिवार की सुबह का है| रामायण का पाठ कर रहे तीनों साधु एक ही आश्रम में रहते थे| चूंकि सुबह की चाय पीने के बाद ही तीनों की तबियत बिगड़ी थी, ऐसे में आशंका जताई जा रही है कि चाय में ही जहरीला पदार्थ मिलाया गया था|

घटना की जानकारी पाकर पुलिस ने शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है| पुलिस के अधिकारियों ने मौके पर पहुंचकर लोगों से बातचीत की है| स्थानीय लोगों का कहना है कि साधुओं को साजिशन जहर दिया गया है और उनकी हत्या की गई है| घटना के बाद से पूरे इलाके में दहशत का माहौल है|

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here