गुरुग्राम: छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी को निमोनिया होने पर मंगलवार को एयर एंबुलेंस के जरिए रात करीब डेढ़ बजे रायपुर से दिल्ली और फिर वहां से गुरुग्राम के मेदांता अस्पताल लाया गया। हृदय रोग विशेषज्ञ डॉ. नरेश त्रेहन व मेदांता अस्पताल के क्रिटिकल केयर विभाग के निदेशक डॉ. यतिन मेहता और उनकी टीम की देखरेख में उनका इलाज चल रहा है। बुधवार को कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने अजीत जोगी को फोन कर हालचाल पूछा।

जानकारी के मुताबिक पूर्व सीएम जोगी को 23 मई की दोपहर को एक कार्यक्रम के लिए दिल्ली रवाना होना था। अचानक तबीयत बिगड़ने के कारण उन्हें शाम करीब 5 बजे रायपुर के रामा कृष्णन केयर अस्पताल में भर्ती करवाया गया। जहां उन्हें निमोनिया की शिकायत बताई गई। छह दिन वहां रहने के बाद भी उनकी हालत में कोई खास सुधार नहीं हुआ। इसके कारण मंगलवार देर रात उन्हें एयर एंबुलेंस के जरिए रायपुर से गुरुग्राम के मेदांता अस्पताल लाया गया। जहां उन्हें वेंटिलेटर पर रखा गया है।

अस्पताल के डॉक्टरों की मानें तो उनके सभी पैरामीटर जैसे पल्स, ब्लड प्रेशर, हार्ट रेट आदि सामान्य हैं। वह पूरी तरह सचेत और सजग हैं। अब उन्हें वेंटिलेटर सपोर्ट से निकालने की कोशिश की जा रही है। अगले 24 घंटों में अस्पताल के सभी विभागों के अध्यक्षों द्वारा उनकी चिकित्सकीय जांच की जाएगी। अस्पताल के मुताबिक अजीत जोगी की हालत में सुधार हो रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here