लखनऊ: कोरोना काल पहले से ही आर्थिक मार झेल रहे लोगों को अब यूपी सरकार भी झटका दे सकती है| बिजली विभाग प्रदेश में बिजली दरों के स्लैब का ढांचा बदलने की तैयारी में जुटा है| ऐसा होने पर उपभोक्ताओं की जेब पर बोझ बढ़ सकता है|

वर्तमान में बिजली दरों के विभिन्न श्रेणियों के कुल 80 स्लैब हैं| इन्हें कम करके 40-50 करने की तैयारी चल रही है| घरेलू श्रेणी में इस समय गरीबी रेखा के नीचे वालों को छोड़कर चार स्लैब हैं, जिन्हें दो करने की योजना है| एक 200 यूनिट तक और दूसरा 200 यूनिट से अधिक| दूसरे स्लैब में आने वाले उपभोक्ताओं पर बोझ बढ़ेगा| इसी तरह कमर्शियल, कृषि, औद्योगिक समेत अन्य श्रेणियों में स्लैब कम होंगे|

हालांकि नई व्यवस्था में शिक्षण संस्थानों और धार्मिक आयोजनों को राहत देने की तैयारी है. शिक्षण संस्थाओं के फिक्स चार्ज और विद्युत मूल्य दोनों में कमी की तैयारी है| वहीं, धार्मिक आयोजनों के लिए अलग श्रेणी बन सकती है| सरकार के निर्देश पर पावर कॉरपोरेशन नए स्लैब का प्रस्ताव तेजी से तैयार करने में जुट है| इसे राज्य विद्युत नियामक आयोग को भेजा जाएगा| आयोग में प्रस्ताव स्वीकार किया तो 2020-21 के टैरिफ आर्डर में इसका एलान संभव है|

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here