आगरा: आज हम एक ऐसे फूल की बात करेंगे, जिसे आप घर को सजाने में खूब इस्तेमाल करते हैं| गेंदे के फूल का इस्तेमाल सजावट के साथ-साथ कई तरह की बीमारियों के इलाज में भी किया जाता है| गेंदे के फूल में कई ऐसे तत्व पाए जाते हैं जो दर्द में आराम दिलाने का काम करते हैं| इतना ही नहीं घाव भरने में भी ये कारगर साबित होता है इसीलिए घर की सजावट में लगे गेंदे के फूलों को कभी नहीं फेंके बल्कि उन्हें सहेजकर रख लीजिए|

जानिए गेंदे के फूल के फायदे

  • गेंदे का फूल स्किन इंफेक्शन से निजात दिलाता है
  • गेंदे का फूल त्वचा संबंधी बीमारियां जैसे स्किन इंफेक्शन और डर्मेटाइटिस को ठीक करने में मदद करता है|
  • गेंदे (Marigold) का फूल स्किन को हाइड्रेट करने में मदद करता है, जिससे उम्र से पहले बुढ़ापे के लक्षण नहीं दिखते हैं|
  • गेंदे का फूल स्किन को गहराई से हील करता है. गेंदे का फूल त्वचा की कोशिकाओं को रिजेनरेट करता है|
  • गेंदे का फूल पथरी के रोग में भी लाभकारी है| गेंदे के फूल के पत्तों का 20-30 मिली काढ़ा कुछ दिन तक लेने से पथरी गलकर शरीर से निकल जाती है|
  • गेंदे में एंटी बैक्टीरियल गुण होते हैं, जिससे चेहरे पर मुंहासों में कमी होती है|
  • अगर किसी के कान में दर्द हो तो 2 बूंद गेंदे के पत्ते का रस कान में डालें, इससे आराम मिलेगा|
  • गेंदे का फूल आंखों की सूजन, दर्द समेत आंखों की कई बीमारियों में फायदेमंद है|
  • गेंदे का फूल दांतों के लिए भी बहुत उपयोगी है| गेंदे के फूल के काढ़े से कुल्ला करने पर दांतों के दर्द में तुरंत आराम मिलता है|
  • गेंदे के फूल की चाय पीने से अल्सर और घाव ठीक होते हैं| इसके अलावा गेंदे की चाय आपकी त्वचा के लिए लाभकारी है|
  • अगर किसी की नाक से खून बहता हो तो 1-2 बूंद गेंदे (Marigold) के पत्ते का रस नाक में डालें| इससे नाक से खून आना बंद हो जाएगा|

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here