आगरा: नौ दिनों तक मां दुर्गा के नौ अलग-अलग स्वरूपों में पूजा जाने वाला त्यौहार शारदीय नवरात्रि 10 अक्टूबर से प्रारंभ होने वाले हैं। साल में नवरात्रि दो बार मनाई जाती है पहला चैत्र मास में और दूसरा अश्विन माह की शारदीय नवरात्रि। शारदीय नवरात्रि में दसवें दिन दशहरा जिसे विजयादशमी भी कहते हैं मनाया जाता है। लेकिन क्या आप जानते है कि शारदीय नवरात्रि की शुरुआत कैसे हुई थी|

ऐसी मान्यता है कि शारदीय नवरात्रि की शुरुआत भगवान राम के द्वारा हुई थी। लंका पर विजय प्राप्ति के लिए भगवान राम में समुद्र किनारे लगातार 9 दिनों तक शक्ति की उपासना की थी। तभी से शारदीय नवरात्रि को मनाने की परंपरा चली आ रही है। शारदीय नवरात्रि में लगातार नौ दिनों तक शक्ति की पूजा करने के बाद 10वें दिन दशहरा मनाया जाता है। ऐसा माना जाता है कि 10वें दिन भगवान राम ने रावण का वध किया था इसी दिन अधर्म पर धर्म की जीत हुई थी।

शारदीय नवरात्रि में हर तरह के शुभ कार्य किए जा सकते हैं। नवरात्रि के 9 दिन बहुत शुभ होते हैं इसमें किसी विशेष कार्य के लिए मुहूर्त देखने की जरूरत नहीं होती। इन खास दिनों पर लोग गृह प्रवेश और नई गाड़ियों की खरीददारी करते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here