Advertisement

चित्रकूट: जिले के बोसड़ा गांव में मंगलवार को बड़ा हादसा हो गया. यहां पर बकरी चराने गईं चार किशोरियां खेल खेल में तालाब में कूद गईं. इस दौरान गहरे पानी में जाने के बाद चारों की मौत हो गई. मृतकों में दो सगी बहनें हैं वहीं दो अन्य उनकी सहेलियां हैं. जानकारी के अनुसार सुबह अपने घर से बुधरानी और पार्वती बकरियां चराने के लिए निकलीं. इस दौरान उनके साथ दो सहेलियां किरण व सविता भी थीं. इस दौरान चारों तालाब में उतर गईं और फिर धीरे धीरे गहरे पानी की तरफ जाने के बाद चारों की डूबने से मौत हो गई.

adv

जब किशोरियां शाम तक घर नहीं पहुंचीं तो परिजन चिंता में आ गए और उनको ढूंढना शुरू किया. इसके बाद परिजन को चारों किशोरियों के शव तालाब में तैरते हुए मिले. इसके बाद पुलिस को सूचना दी गई.

पूरे गांव में मातम का माहौल


किशोरियों के शव मिलने के साथ ही पूरे गांव में मातम का माहौल हो गया. वहीं पुलिस के एक घंटे तक मौके पर नहीं पहुंचने के चलते ग्रामीणों में नाराजगी भी दिखी. फिलहाल पुलिस ने चारों शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है. सूचना मिलने पर जिलाधिकारी सुक्रांत कुमार शुक्ला भी मौके पर पहुंचे और पीड़ित परिवारों की आर्थिक मदद की भी घोषणा की. उन्होंने कहा कि पीड़ित परिवारों की हर संभव मदद की जाएगी, साथ ही मुख्यमंत्री राहत कोष से भी मदद का ऐलान किया गया है.

कभी नहीं उतरती थीं तालाब में


वहीं परिजन का कहना है कि चारों को ही तैरना नहीं आता था और वे तालाब के आसपास भी नहीं जाती थीं. ऐसे में चारों किशोरियां तालाब में क्यों उतरीं ये परिजन के सामने बड़ा सवाल है. पीड़ित परिवार का कहना था कि बकरियां चराने के लिए किशोरियां हर दिन जाती थीं लेकिन कभी भी तालाब के आसपास नहीं जाती थीं. हालांकि पुलिस मामले को प्रथमदृष्टया हादसा ही मान रही है लेकिन फिर भी सभी पहलुओं की जांच की जा रही है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here