बुलंदशहर: बुलंदशहर में मंगलवार को बुरी तरह झुलसी रेप पीड़िता की दिल्ली के अस्पताल में इलाज के दौरान मौत हो गई. पीड़िता के परिजनों ने आरोप लगाया कि रेप के आरोपी के परिजन नाबालिग को आग के हवाले कर दिया| परिवारवालों ने बताया कि सोमवार को आरोपी के परिजनों ने शिकायत वापस न लेने पर युवती को जान से मारने की धमकी दी थी| 4 माह पूर्व नाबालिग से रेप हुआ था| अब इस मामले में जिम्‍मेदार पुलिसकर्मियों पर कार्रवाई की गई है|

बुलंदशहर में रेप पीड़िता आत्मदाह के मामले में 7 एफआईआर दर्ज की गई है| इसमें संजय, काजल, बनवारी, बदन सिंह, वीर सिंह, जशवंत सिंह, गौतम के विरुद्ध रिपोर्ट दर्ज की गई है| रेप के आरोपी के चाचा, चाची सहित 7 के खिलाफ धारा 147, 506, 452, 307 IPC व SC/ST एक्ट के तहत रिपोर्ट दर्ज हुई है| जहांगीराबाद कोतवाली पुलिस ने ये कार्रवाई की है|

पुलिस ने इस मामले में 3 नामजद लोगो को गिरफ्तार कर लिया है| पीड़िता के परिजनों ने 7 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कराया था| इस जघन्‍य घटना में 1 सीओ, 2 इंस्पेक्टर, 2 सब-इंस्पेक्टर, 1 कांस्टेबल पर कार्रवाई की गई है| इसमें सीओ और इंस्पेक्टर को हटा दिया गया है| वहीं, दो सब-इंस्पेक्टर को लाइन हाजिर कर दिया गया है, जबकि एक कांस्टेबल को निलंबित कर दिया गया है|

मामले में एसएसपी संतोष कुमार सिंह ने बताया कि शुरुआती दौर में सुबह करीब 11 बजे तक यही बात थी कि पीड़िता द्वारा खुद को आग लगाई गई है| बाद में परिजनों द्वारा दी गई तहरीर में जलाए जाने की बात है| हम पूरे मामले की गहनता से जांच कर रहे हैं| अभी तक तीन लोगों की गिरफ्तार किए जा चुके हैं|

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here