नई दिल्‍ली: भारतीय सेना ने अपने कर्मियों को अपने स्मार्टफोन से फेसबुक, टिक टॉक, ट्रू-कॉलर और इंस्टाग्राम सहित 89 ऐप्स हटाने के लिए कहा है। भारतीय सेना के सूत्रों के मुताबिक, सेना के जवानों को हाल ही में जारी किए गए निर्देशों में डेली हंट न्यूज़ ऐप के साथ टिंडर, काउच सर्फिंग जैसे डेटिंग ऐप्स और गेम्स में पब-जी को भी हटाने के लिए कहा गया है। भारतीय सेना ने अपने कर्मियों को सूचनाओं को लीक होने से रोकने के लिए ऐसा निर्देश दिया है|

बता दें कि भारत सरकार ने हाल ही में 59 ऐप्स को प्रतिबंधित किया था, जिन्‍हें गूगल प्ले स्टोर और एपल ऐप स्टोर ने भारत में हटा दिया है, जिससे देश में मोबाइल फोन उपयोगकर्ताओं की इन ऐप तक पहुंच बंद हो गई है। भारत ने टिकटॉक, यूसी ब्राउजर, शेयरइट और वीचैट सहित चीनी से संबंध रखने वाले 59 ऐप पर प्रतिबंध लगाया है। सरकार का कहना है कि ये ऐप देश की संप्रभुता, अखंडता और सुरक्षा के लिए पूर्वाग्रह से ग्रस्त थे।

बता दें कि भारत और चीन के बीच लद्दाख सीमा पर तनाव के बीच चीन के हैकर्स ने भारत पर धुआंधार ऑनलाइन बमबारी भी की थी। एक से 10 जून के बीच 10 करोड़ भारतीयों को ईमेल और 24 करोड़ लोगों के मोबाइल पर थ्रेट मैसेज भेजे गए। हैकर्स का इरादा इन फर्जी संदेशों के जरिये कंप्यूटर और मोबाइलों में सुरक्षित डेटा को क्षति पहुंचाने तथा नेट बैंकिंग में सेंधमारी का रहा। इस तरह के हमले अब भी जारी हैं।

साइबर विशेषज्ञों के अनुसार भारतीयों के ईमेल व मोबाइल नंबर हैकर्स ने चीन के विभिन्न एप के माध्यम से जुटाए हैं। शायद यही वजह है कि अब सैनिकों को डेटा की सेंधमारी से बचाने के लिए कुछ ऐप्‍स को न इस्‍तेमाल करने की सलाह दी गई है। गूगल ने साइबर अटैक की जानकारी 10 जून को जारी रिपोर्ट में दी थी। इसमें चीन का नाम लिए बिना बताया कि विदेशी थ्रेट मैसेज भारत में भेजे गए।