प्रयागराज: शहर से स्थानांतरित हुए सरकारी कार्यालयों को वापस लाने, शिक्षा सेवा अधिकरण को प्रयागराज में स्थापित कराने के लिए हाईकोर्ट बार एसोसिएशन के आह्वान पर मंगलवार को प्रयागराज बंद का शहर में व्यापक असर दिख रहा है। बंद के समर्थन में व्यापारी संगठन समेत कई संस्थाओं ने भी साथ दिया है। सुबह से ही पेट्रोल पंप, शहर के सभी प्रमुख बाजार, शॉपिंग मॉल के साथ अधिकांश स्कूल और कॉलेज बंद हैं। सड़कों पर सन्नाटा पसरा हुआ है। बंद के मद्देनजर प्रमुख बाजारों व महत्वपूर्ण स्थानों पर सुरक्षा व्यवस्था भी तगड़ी है। पुलिस के साथ ही अर्धसैनिक बल भी तैनात हैं।

अनशन जारी रखने के साथ अधिवक्ताओं ने बंदी की पूर्व संध्या पर बाइक जुलूस निकालकर अपनी ताकत दिखाई। अधिवक्ताओं को समर्थन देने के लिए हर संगठन के लोग जुलूस में शामिल हुए। इन्हीं मांगों को लेकर हाईकोर्ट बार एसोसिएशन ने मंगलवार को प्रयागराज बंद का आह्वान किया। इस बंदी में हर संगठन का समर्थन मिला है।

प्रयागराज बंद के चलते हाई कोर्ट के अधिवक्ता न्यायिक कार्य से मंगलवार को विरत हैं। वहीं सैकड़ों की संख्या में अधिवक्ताओं ने वाहन जुलूस हाई कोर्ट के निकट से निकाला। जुलूस शहर के विभिन्न मार्गों में भ्रमण कर रहा है। इस दौरान अधिवक्ता अपनी मांगों को लेकर एकजुट हैं, नारेबाजी कर रहे हैं। वहीं डॉ. भीमराव आंबेडकर चौराहा के पास हाईकोर्ट बार एसोसिएशन के बैनर तले सोमवार को 8वें दिन क्रमिक अनशन जारी रहा। इसका नेतृत्व पूर्व अध्यक्ष अनिल तिवारी ने किया। बार अध्यक्ष राकेश पांडेय ने प्रदेश सरकार पर जमकर निशाना साधा। बोले, सरकार की गलत नीतियों के चलते अधिकरण को लेकर विवाद खड़ा हुआ है। मौजूदा सरकार प्रयागराज की गरिमा गिराने के लिए यहां से सरकारी कार्यालय बिना सूचना दिए हटा रही है। इसे अब बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

व्यापारी समेत कई संगठनों ने किया बंद का समर्थन

शैक्षिक सेवा अधिकरण व जीएसटी अपीलीय अधिकरण को प्रयागराज से स्थानांतरित किए जाने का विरोध और बंद का व्यापारियों समेत कई संगठनों ने समर्थन किया है। सोमवार को समर्थन में निकाली गई अधिवक्ताओं की बाइक रैली में ट्रांसपोर्टरों ने भी हिस्सा लिया।

इलाहाबाद हाई कोर्ट बार एसोसिएशन के आह्वान पर प्रयागराज बंद के दौरान जिले की फोर्स भी मुस्तैद है। बंद को देखते हुए शहर के प्रमुख बाजारों, प्रमुख स्थानों पर पुलिस, पीएसी और अर्धसैनिक बल तैनात हैं। साथ ही पुलिस की गाडिय़ां भी सड़कों पर दौड़ रही हैं। एसपी सिटी बृजेश श्रीवास्तव ने बताया कि सिविल लाइंस, चौक, कटरा, धूमनगंज समेत अन्य प्रमुख बाजारों में पुलिस फोर्स तैनात है, ताकि किसी तरह की अव्यवस्था न होने पाए।

बंद को देखते हुए शहर के कई स्कूल और कॉलेजों के प्रबंधन ने मंगलवार को बंद कर दिया है। कई स्कूलों के अभिभावकों के मोबाइल पर मैसेज सोमवार की दोपहर में ही आ गया था तो कई के रात में स्कूल बंद होने का संदेश आया तो कहीं सुबह भी मैसेज आए। हालांकि सूचना के अभाव में कई स्कूलों में बच्चे पहुंचे, लेकिन बंद होने पर उन्हें वापस लौटना पड़ा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here