प्रयागराज: सीएम योगी सरकार द्वारा अवैध निर्माणों के ध्वस्तीकरण की कार्रवाई पर इलाहाबाद हाईकोर्ट ने 1 महीने के लिए रोक लगा दी है| बाहुबली मुख्तार अंसारी के बेटे अब्बास अंसारी व जमशेद रजा की याचिका पर सुनवाई के दौरान कोर्ट यह फैसला दिया है|

जस्टिस शशिकांत गुप्ता और जस्टिस पंकज मित्तल की डिवीजन बेंच ने आदेश जारी करते हुए अवैध निर्माणों के ध्वस्तीकरण की कार्रवाई पर अगले 1 महीने के लिए रोक लगाई है| इस संबंध में चीफ सेक्रेट्री, सभी जिलों के डीएम और विकास प्राधिकरणों के वीसी को आदेश पर अमल करने का निर्देश दिया गया है| इससे राहत उन्हीं को मिलेगी जो 30 दिन के बाद ध्वस्तीकरण आदेश के खिलाफ अपील दाखिल करेंगे|

दरअसल याचिकाकर्ता का कहना है कि उसने 29 सितम्बर 2000 को जमीन का बैनामा कराया था| इसके लिए 5 दिसम्बर को व्यावसायिक निर्माण का नक्शा पास कराने के लिए आवेदन दिया, 31 दिसम्बर 2002 को कंपाउन्डिंग का अनुमोदन कर दिया गया| इसके बावजूद बिना सुनवाई 15 सितम्बर 2020 को अनुमोदन निरस्त कर दिया गया|

इस संबंध में 16 सितंबर 20 को ध्वस्तीकरण का कारण बताओ नोटिस जारी किया गया| 8 अक्टूबर को एक हफ्ते में ध्वस्तीकरण की कार्यवाई का आदेश जारी किया गया| इसी आदेश के खिलाफ याची ने कोर्ट में चुनौती दी गयी है|

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here