प्रयागराज: लखनऊ में प्रॉपर्टी डीलर की गोली मारकर हत्या कर भागे आरोपित मनीष यादव को कुंडा सर्किल के नवाबगंज थाने की पुलिस ने बुधवार को प्रतापगढ़ रायबरेली जनपद की सीमा पर ब्रह्मावली गांव के पास कार सहित पकड़ लिया गया है।आरोपित इलाहाबाद हाई कोर्ट में अधिवक्‍ता है। वह हत्या को अंजाम देने के बाद लखनऊ से प्रयागराज भाग रहा था।

वायरलेस पर सूचना पाने पर सक्रिय हुई पुलिस ने उसे पकड़ने में सफलता हासिल कर ली। पकड़ा गया आरोपित फिरोजाबाद जनपद के मसीरपुर थाना अंतर्गत धनापुर गांव का रहने वाला मनीष कुमार यादव पुत्र सुशील कुमार इलाहाबाद हाईकोर्ट में अधिवक्‍ता है। वह गोरखपुर के रहने वाले दुर्गेश यादव को बुधवार की सुबह लखनऊ में गोली मारकर फरार हो गया नवाबगंज पुलिस पुलिस ने घेराबंदी करके उसे पकड़ लिया। वह अपनी स्कॉर्पियो कार को खुद चलाते हुए आ रहा था। जब कार की तलाशी ली गई तो उसमें हत्या में प्रयुक्त 32 एमएम की पिस्टल पांच कारतूस बरामद हुआ।

आरोपी ने बताया कि दुर्गेश अपने को सचिवालय का फर्जी सचिव बता कर 67 लाख रुपये ले रखा था। कई बार मांगने पर भी लौटाने को तैयार नहीं हो रहा था और अब तो मांगने पर धमकी भी देने लगा था।

थाना अध्यक्ष अखिलेश कुमार ने बताया कि उसके पकड़े जाने की सूचना एसपी के माध्यम से लखनऊ पुलिस को दी जा चुकी है। आरोपित मनीष को कब्जे में लेने के लिए लखनऊ पुलिस की विशेष टीम प्रतापगढ़ के लिए रवाना हो चुकी है। तब तक आरोपी से पूछताछ की जा रही है।

यह भी पढ़े- प्रयागराज: इन चार शातिर अपराधियों ने पुलिस और लोगों को कर रखा है परेशान, अब होगी कार्रवाई

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here