आगरा: उत्तर प्रदेश के आगरा में 16 रोहिंग्या मुसलमानों को पुलिस ने फोर्ट रेलवे स्टेशन से पकड़ा है। पकड़े गए रोहिंग्या मुसलमानों की जांच के बाद पुलिस को चौंकाने वाले तथ्य पता चले हैं। हैरानी वाली बात यह है कि सभी के पास जो पहचानपत्र मिले हैं उनमें हर किसी की जन्म तारीख 1 जनवरी ही दर्ज है। खुफिया एजेंसियां इसकी जांच कर रही हैं।

adv

जांच एजेंसियों ने रोहिंग्या मुसलमानों के पास पकड़े गए पहचानपत्र की कॉपियां यूनाइटेड नैशन हाई कमीशन फॉर रेफ्यूजी ( यूएनएचसीआर) के दिल्ली दफ्तर को भेज दिए हैं। पुलिस ने बताया कि उन्हें आगरा में रोहिंग्या मुसलमानों के अवैध रूप से आने की सूचना मिली थी।

जांच के बाद पुलिस ने 16 लोगों को पकड़ा। पूछताछ में इन लोगों ने बताया कि वह कोलकाता से यहां आए थे। वे बीते दो साल से यहां रह रहे हैं। उन्होंने बताया कि उनके अलावा 12 अन्य रोहिंग्या मुसलमानों के परिवार आगरा में रह रहे हैं। ये सभी कूड़ा बीनने का काम करते हैं और अलग-अलग इलाकों की झुग्गी-झोपड़ी में रह रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here